Diese Präsentation wurde erfolgreich gemeldet.
Wir verwenden Ihre LinkedIn Profilangaben und Informationen zu Ihren Aktivitäten, um Anzeigen zu personalisieren und Ihnen relevantere Inhalte anzuzeigen. Sie können Ihre Anzeigeneinstellungen jederzeit ändern.

Polity topic-rastrpati-3 a

5.184 Aufrufe

Veröffentlicht am

Polity topic-rastrpati-3a

  • Login to see the comments

Polity topic-rastrpati-3 a

  1. 1. राष्ट्रपति भारिीय राजव्यवस्था एवं अभभशासन www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  2. 2. • संविधान के भाग V के अनुच्छेद 52 से 78 तक मे संघ की कार्यपालिका का िर्यन है। • संघ की कार्यपालिका में राष्ट्रपतत, उपराष्ट्रपतत, प्रधानमंत्री, मंत्रत्रमंडि तथा महान्र्ार्िादी शालमि होते हैं । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  3. 3. राष्ट्रपति का तनवााचन • राष्ट्रपतत का तनिायचन जनता प्रत्र्क्ष रूप से नहीं करती बल्कक एक तनिाचचन िन मंडि के सदस्र्ों द्िारा उसका तनिायचन ककर्ा जाता है। इसमें तनम्न िोग शालमि होते हैं- 1. संसद के दोनों सदनों के तनिायचचत सदस्र् 2. राज्र् विधानसभा के तनिायचचत सदस्र्, तथा 3. कें द्रशालसत प्रदेशों ददकिी ि पुदुचेरी विधानसभाओं के तनिायचचत सदस्र् । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  4. 4. • राष्ट्रपतत चुनाि से संबंचधत सभी वििादों की जांच ि फै सिे उच्चतम न्र्ार्ािर् में होते हैं तथा उसका फै सिा अंततम होता है। Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  5. 5. राष्ट्रपति के पद के भिए शिे • िह कोई अन्र् िाभ का पद धारर् नहीं करेगा । • उसे संसद द्िारा तनधायररत उपिल्यर्र्ो, भत्ते ि विशेषाचधकार प्राप्त होंगे । • उसकी उपिल्धधर्ा और भत्ते उसकी पदािचध के दौरान कम नहीं ककए जाएंगे । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  6. 6. पदावधि, महाभभयोग व पदररक्ििा राष्ट्रपति क ं पदावधि राष्ट्रपतत की पदािचध उसके पद धारर् करने की ततचथ से पांच िषय तक होती है। हािांकक िह अपनी पदािचध में ककसी भी समर् अपना त्र्ागपत्र उपराष्ट्रपतत को दे सकता है। राष्ट्रपति पर महाभभयोग राष्ट्रपतत पर संविधान का उकिंघन करने पर महालभर्ोग चिाकर उसे पद से हटार्ा जा सकता है। हािांकक संविधान ने श्संविधान का उकिंघनश् िाक्र् को पररभावषत नहीं ककर्ा है। Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  7. 7. राष्ट्रपति के पद क ररक्ििा • राष्ट्रपतत का पद तनम्न प्रकार से ररक्त हो सकता है- 1. पांच िषीर् कार्यकाि समाप्त होने पर, 2. उसके त्र्ागपत्र देने पर 3. महालभर्ोग प्रकिर्ा द्िारा उसे पद से हटाने पर, 4. उसकी मृत्र्ु पर, 5. अन्र्था, जैसे र्दद िह पद ग्रहर् करने के लिए अहयत न हो अथिा तनिायचन अिैध घोवषत हो । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  8. 8. राष्ट्रपति क शक्क्ियां व किाव्य • राष्ट्रपतत द्िारा प्रर्ोग की जाने िािी शल्क्तर्ां ि ककए जाने िािे कार्य तनम्नलिखित हैं- 1. कार्यकारी शल्क्तर्ां । 2. विधार्ी शल्क्तर्ां । 3. वित्तीर् शल्क्तर्ां । 4. न्र्ातर्क शल्क्तर्ां । 5. कू टनीततक शल्क्तर्ां । 6. सैन्र् शल्क्तर्ां । 7. आपातकािीन शल्क्तर्ां । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  9. 9. ऑनिाइन कोधचंग के बारे में अधिक जानकारी के भिए यहां क्क्िक करें http://iasexamportal.com/civilservices/courses/ias-pre/csat- paper-1-hindi हार्ा कॉपी में सामान्य अध्ययन प्रारंभभक परीक्षा (स्टर्ी ककट - पेपर - 1 (Paper - 1) खरीदने के भिए यहां क्क्िक करें http://iasexamportal.com/civilservices/study-kit/ias-pre/csat- paper-1-hindi Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  10. 10. IASEXAMPORTAL Other Online Courses Online Course for Civil Services Preliminary Examination  सीसैट (CSAT) प्रारंलभक परीक्षा के लिए ऑनिाइन कोचचंग (पेपर - 2)  Online Coaching for CSAT Paper - 1 (GS)  Online Coaching for CSAT Paper - 2 (CSAT) Online Course for Civil Services Mains Examination General Studies Mains (NEW PATTERN - Paper 2,3,4,5) Public Administration for Mains For Know More Click Here: http://iasexamportal.com/civilservices/courses Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM

×