Diese Präsentation wurde erfolgreich gemeldet.
Wir verwenden Ihre LinkedIn Profilangaben und Informationen zu Ihren Aktivitäten, um Anzeigen zu personalisieren und Ihnen relevantere Inhalte anzuzeigen. Sie können Ihre Anzeigeneinstellungen jederzeit ändern.
कु पोषण-पहचान और रोकथाम
डॉ शाम अ टेकर
1-अ ैल 2014
1
नयी अंगनबाडी
2
1 कु पोषण-कै से पहचाने।
3
तोलना
4
तोलना
5
तोलना-इले ॉ नक मशीनपर
6
भारवृ ी चाट
7
भारवृ ी चाट-सामा य ेणी
8
भारवृ ी चाट-सामािजक
9
उंचाई-कद का मापन
10
उंचाई-कद के
मापन हेतु
इंफटोमीटर
11
उंचाई-कद के
अनुसार भार और
ेणीमापन
12
कु पो षत
ब च का
%%%% माण
रा य कम भार वाले
ब च का %
माण
कम कद वाले
ब च का %
माण
कम कद-भार
वाले ब च का %
माण
के रल 20.8 23.4...
इन 3 मापदंडोके अलावा भुजा का घेरा नापने
क भी प ती है।
भुजा का घेरा नापने क
प ी
14
भुजा का घेरा नापने क प ती
(इस फोटोम म यम ेणी कु पोषण)
15
भुजा का घेरा नापने क प ती
(इस फोटोम सामा य ेणी)
16
2 कु पोषण-रोकथाम
17
बालकु पोषण क
कारण परंपरा
समझना ज र है
कु छ
बालमृ यू
कु पोषण और बीमार का
च , १०% ब चे ती
कु पो षत
म हला और कशोर लड कय म कु ...
मह वपूण एक हजार दन
गभाव था, 300
2रा वष, 365
के वल
तनपान, 1807 से 12
म हनेतक, 145
2रा वष, 365
19
ज द या न 18
बरस के पहले लडक
क शाद न करे।
21 के पहले ब चा
क शाद न करे।
21 के पहले ब चा
भी न हो।
20
समय समय पर गभाव था क जांच
करे। र ता पता टाले।
21
सव के लये अ पताल जाय, 102 सेवा
का उपयोग।
22
सव के लये अ पताल जाय, 102-108
सेवा का उपयोग।
23
कम भार या कमजोर शशुको खास लाज
क ज रत होती है
24
सव आ द सेवाओंका उपयोग-
घर म सव कराना टाल।
25
सव के बाद तुरंत तनपान,
तथा 6 मास तक के वल तनपान करना
अहम ् है।
26
ब चेक समय समय पर देखभाल
27
नजी व छता सखाना
28
गंदगी रोकना
पाखाने
29
पाखाने
30
साफ पानीका और फ टर का उपयोग
31
हाथ धोनेसे सं मण कम होता है
32
अ छा भोजन और खानेक आदते
33
आहार और पोषणक क ब च को भी जानकार
34
35
घर घर म ब च के लये खानेका खजाना
36
अंगनबाडी से पूरक खा या न का सह उपयोग
37
सोयाबीन और
दाल का का
थन के लये
सरासर योग
38
दूध, अंडे और मूँगफल का मह व-- थन
39
माय ो यू यंट या न सू मपोषक त व भी
ज र है
40
द त या बुखार बीमार का तुरंत इलाज
41
कु पो षत ब च का इलाज
अंगनबाडीम ाम पोषण
पुनवास क
अ पताल म पोषण पुनवास
क
42
ज म से लेकर शशु का वजन ठ क रहना चा हये।
43
कु पोषण मु ती के लये प रवार नयोजन भी ज र है।
44
ब च का खानपान सब क िज मेवार
45
सु ढ शशु ह
कल का व थ नाग रक हो सकता है
46
शुभ कामनाऍ
Dr Shyam Ashtekar (MD, Community Medicine)
21 Cherry Hills Society,Anandwalli, Nashik 422013
shyamashtekar@yaho...
Nächste SlideShare
Wird geladen in …5
×

Child malnutrition in India-causes and solutions- hindi 2014

5.870 Aufrufe

Veröffentlicht am

This is an overview of child malnutrition in India-causes, measurement, and approaches to overcome malnutrition. This is based on my study in 2014

Veröffentlicht in: Gesundheit & Medizin
  • D0WNL0AD FULL ▶ ▶ ▶ ▶ http://1lite.top/vNp41 ◀ ◀ ◀ ◀
       Antworten 
    Sind Sie sicher, dass Sie …  Ja  Nein
    Ihre Nachricht erscheint hier
  • Have u ever tried external professional writing services like ⇒ www.HelpWriting.net ⇐ ? I did and I am more than satisfied.
       Antworten 
    Sind Sie sicher, dass Sie …  Ja  Nein
    Ihre Nachricht erscheint hier
  • D0WNL0AD FULL ▶ ▶ ▶ ▶ http://1lite.top/vNp41 ◀ ◀ ◀ ◀
       Antworten 
    Sind Sie sicher, dass Sie …  Ja  Nein
    Ihre Nachricht erscheint hier
  • Discover How to Cure Acne At Any Age, Even If You�ve Tried Everything And Nothing Has Ever Worked For You Before Click Here  http://ishbv.com/buk028959/pdf
       Antworten 
    Sind Sie sicher, dass Sie …  Ja  Nein
    Ihre Nachricht erscheint hier
  • very good presentation. I have downloaded it for presentation among village community in my native place. Thank you for such social work.
       Antworten 
    Sind Sie sicher, dass Sie …  Ja  Nein
    Ihre Nachricht erscheint hier

Child malnutrition in India-causes and solutions- hindi 2014

  1. 1. कु पोषण-पहचान और रोकथाम डॉ शाम अ टेकर 1-अ ैल 2014 1
  2. 2. नयी अंगनबाडी 2
  3. 3. 1 कु पोषण-कै से पहचाने। 3
  4. 4. तोलना 4
  5. 5. तोलना 5
  6. 6. तोलना-इले ॉ नक मशीनपर 6
  7. 7. भारवृ ी चाट 7
  8. 8. भारवृ ी चाट-सामा य ेणी 8
  9. 9. भारवृ ी चाट-सामािजक 9
  10. 10. उंचाई-कद का मापन 10
  11. 11. उंचाई-कद के मापन हेतु इंफटोमीटर 11
  12. 12. उंचाई-कद के अनुसार भार और ेणीमापन 12
  13. 13. कु पो षत ब च का %%%% माण रा य कम भार वाले ब च का % माण कम कद वाले ब च का % माण कम कद-भार वाले ब च का % माण के रल 20.8 23.4 16.4 ता मऴनाड 28.6 21.7 26.4 महारा 31.5 43.9 15. आं 31.7 42.9 14.1 कनाटक 35.6 36.7 20.7 प. बंगाल 35.6 40.6 21.4 %%%% माण (आयु 0-2 बरस तक) 35.6 40.6 21.4 कु ल 37.7 41.3 22.3 ओ डसा 40.3 47.3 18.2 उ देश 47.8 44.9 31.7 गुजरात 48.4 54.9 27.7 म य देश 51.4 48.7 33 NNMB survey 2012 13
  14. 14. इन 3 मापदंडोके अलावा भुजा का घेरा नापने क भी प ती है। भुजा का घेरा नापने क प ी 14
  15. 15. भुजा का घेरा नापने क प ती (इस फोटोम म यम ेणी कु पोषण) 15
  16. 16. भुजा का घेरा नापने क प ती (इस फोटोम सामा य ेणी) 16
  17. 17. 2 कु पोषण-रोकथाम 17
  18. 18. बालकु पोषण क कारण परंपरा समझना ज र है कु छ बालमृ यू कु पोषण और बीमार का च , १०% ब चे ती कु पो षत म हला और कशोर लड कय म कु पोषण,म हला और कशोर लड कय म कु पोषण, ऍ न मया और दुबलापन| कम उ म शाद , सव, वा य सेवाओं क कमी, ज म वजन कम होना, तनपान म खा मयॉ ं और छ: मास बाद ठ क से खाना नह | गंदगी, कम पौि टक आहार, वा य णाल क कमी, अंध व वास, गलत धारणा, लंग भेद, पलायन, यातायात क मुि कले, कम रोजगार, महंगाई, सावज नक वतरण णाल क खा मयॉ ं आद 18
  19. 19. मह वपूण एक हजार दन गभाव था, 300 2रा वष, 365 के वल तनपान, 1807 से 12 म हनेतक, 145 2रा वष, 365 19
  20. 20. ज द या न 18 बरस के पहले लडक क शाद न करे। 21 के पहले ब चा क शाद न करे। 21 के पहले ब चा भी न हो। 20
  21. 21. समय समय पर गभाव था क जांच करे। र ता पता टाले। 21
  22. 22. सव के लये अ पताल जाय, 102 सेवा का उपयोग। 22
  23. 23. सव के लये अ पताल जाय, 102-108 सेवा का उपयोग। 23
  24. 24. कम भार या कमजोर शशुको खास लाज क ज रत होती है 24
  25. 25. सव आ द सेवाओंका उपयोग- घर म सव कराना टाल। 25
  26. 26. सव के बाद तुरंत तनपान, तथा 6 मास तक के वल तनपान करना अहम ् है। 26
  27. 27. ब चेक समय समय पर देखभाल 27
  28. 28. नजी व छता सखाना 28
  29. 29. गंदगी रोकना पाखाने 29
  30. 30. पाखाने 30
  31. 31. साफ पानीका और फ टर का उपयोग 31
  32. 32. हाथ धोनेसे सं मण कम होता है 32
  33. 33. अ छा भोजन और खानेक आदते 33
  34. 34. आहार और पोषणक क ब च को भी जानकार 34
  35. 35. 35
  36. 36. घर घर म ब च के लये खानेका खजाना 36
  37. 37. अंगनबाडी से पूरक खा या न का सह उपयोग 37
  38. 38. सोयाबीन और दाल का का थन के लये सरासर योग 38
  39. 39. दूध, अंडे और मूँगफल का मह व-- थन 39
  40. 40. माय ो यू यंट या न सू मपोषक त व भी ज र है 40
  41. 41. द त या बुखार बीमार का तुरंत इलाज 41
  42. 42. कु पो षत ब च का इलाज अंगनबाडीम ाम पोषण पुनवास क अ पताल म पोषण पुनवास क 42
  43. 43. ज म से लेकर शशु का वजन ठ क रहना चा हये। 43
  44. 44. कु पोषण मु ती के लये प रवार नयोजन भी ज र है। 44
  45. 45. ब च का खानपान सब क िज मेवार 45
  46. 46. सु ढ शशु ह कल का व थ नाग रक हो सकता है 46
  47. 47. शुभ कामनाऍ Dr Shyam Ashtekar (MD, Community Medicine) 21 Cherry Hills Society,Anandwalli, Nashik 422013 shyamashtekar@yahoo.com Cell +919422271544 Website: arogyavidya.org,arogyavidya.org, bharatswasthya.net 47

×